Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

विश्व सिनेमा का जश्न / 54वां भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) भव्य उद्घाटन समारोह आज

#GOAIFFI54th

पणजी : 54वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) की धूम आज से गोवा के तटों पर दिखाई दे रही है । प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले सिनेमा के उत्सव का भव्य उद्घाटन २० नवंबर को गोवा के पणजी में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम में होगा।
गोवा में आयोजित होने वाला ये नौ दिवसीय उत्सव विश्वभर के दर्शकों के लिए सिनेमा की विविध श्रृंखलाओं के प्रदर्शन का अप्रतिम अवसर होता है। इस महोत्सव का शुभारंभ पुरस्कार विजेता ब्रिटिश फिल्म निर्माता स्टुअर्ट गैट की मनमोहक ड्रामा थ्रिलर कैचिंग डस्ट के अंतर्राष्ट्रीय प्रीमियर के साथ शुरू होगा। फ्रांसीसी निर्देशक नूरी बिल्गे सीलन द्वारा निर्देशित अबाउट ड्राई ग्रासेज़ मिड फेस्ट फिल्म होगी और रॉबर्ट कोलोडनी द्वारा निर्देशित द फेदरवेट फिल्म के साथ 54वें इफ्फी का समापन होगा।

‘‘भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) दुनिया के 14 सबसे बड़े और सबसे प्रतिष्ठित ‘अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा फीचर फिल्म महोत्सवों’में से एक है, जो कि इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (एफआईएपीएफ) से मान्यता प्राप्त है, जो कि विश्व स्तर पर फिल्म महोत्सवों का संचालन करने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था है। कान, बर्लिन और वेनिस जैसे अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव दरअसल ऐसे अन्य प्रतिष्ठित फिल्ममहोत्सव हैं, जो इस श्रेणी के तहत एफआईएपीएफ से मान्यता प्राप्त हैं। इस भव्य वार्षिक फिल्ममहोत्सव में पूरी दुनिया और भारत की सर्वश्रेष्ठ फिल्में पिछले कई वर्षों सेदिखाई जाती रही हैं जिसमें भारतीय फिल्म उद्योग के साथ-साथ दुनिया भर की फिल्म हस्‍ति‍यां प्रतिनिधियों, अतिथियों और वक्ताओं के रूप में इसकी शोभा बढ़ाती हैं।’’ एनएफडीसी के एमडी और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के संयुक्त सचिव (फिल्म) श्री पृथुल कुमार ने ये बातें कहीं।श्री पृथुल आज यहां पणजी में 54वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के लिए आयोजित पूर्वावलोकन संबंधी संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे।संवाददाता सम्मेलन में ईएसजी की उपाध्यक्ष श्रीमती डेलिलाह एम. लोबो;ईएसजी की सीईओ सुश्री अंकिता मिश्रा;पीआईबी, पश्चिमी जोन की महानिदेशक सुश्री मोनीदीपा मुखर्जी; और पीआईबी की महानिदेशक डॉ. प्रज्ञा पालीवाल गौड़ भी उपस्थित थीं।

फिल्‍मोत्‍सव में पहली बार रिस्टोर्ड (पुनर्निर्मित) क्लासिक्स खंड भी पेश किया गया है, जिसमें भारतीय क्लासिक्स की क्षतिग्रस्त सेल्युलाइड रीलों से राष्ट्रीय फिल्म विरासत मिशन (एनएफएचएम) के तहत एनएफडीसी-एनएफएआई द्वारा फिर से तैयार की गई फिल्‍मों के 7 विश्व प्रीमियर शामिल हैं। इसके अलावा, इस खंड में 3 अंतरराष्ट्रीय पुनर्निर्मित फिल्में भी प्रदर्शित की जाएंगी।
इस उद्घाटन समारोह में सुपरस्टार माधुरी दीक्षित और शाहिद कपूर के साथ-साथ श्रिया सरन, नुसरत भरूचा, पंकज त्रिपाठी, शांतनु मोइत्रा, श्रेया घोषाल और सुखविंदर सिंह प्रस्तुति देंगे। महोत्सव में कैथरीन जेटा जोन्स, सलमान खान, विद्या बालन, आयुष्मान खुराना, अनुपम खेर, विकी कौशल, सिद्धार्थ मल्होत्रा, अदिति राव हैदरी, एआर रहमान, श्रेया घोषाल, सुखविंदर सिंह, अमित त्रिवेदी समेत कई मशहूर फिल्म कलाकार हिस्सा लेंगे।
हॉलीवुड अभिनेता-निर्माता माइकल डगलस को सत्यजीत रे लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। माइकल डगलस को फिल्म और टेलीविजन उद्योग में 50 से अधिक वर्षों का अनुभव है, उन्हें 2 ऑस्कर, 5 गोल्डन ग्लोब पुरस्कार, एक प्राइमटाइम एमी पुरस्कार और विभिन्न अन्य सम्मान प्राप्त हुए हैं।
केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस फिल्म महोत्सव के लिए अपनी शुभकामनाएं देते हुए एक संदेश में कहा कि ऐसे युग में जहां प्रौद्योगिकी हमारे कॉन्टेंट देखने के तरीके को लगातार बदल रही है, तब फिल्म महोत्सव सिनेमाई अनुभव के प्रति लोगों के लगातार कायम आकर्षण का प्रमाण बने हुए हैं। उन्होंने कहा, ”फिल्म सहयोग, संयुक्त निर्माण और अत्याधुनिक तकनीक विकसित करने के लिहाज से इफ्फी एक आदर्श मंच बन गया है। हमारे निर्देशकों और फिल्मकारों के साथ सहयोग व फिल्मकारों के जुनून के चलते इफ्फी हर साल बढ़ रहा है।”
इस वर्ष महोत्सव में चार स्थलों पर 270 से अधिक फिल्में दिखाई जाएंगी। इस वर्ष इफ्फी को 105 देशों से 2926 प्रविष्टियों के साथ जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है, जो पिछले वर्ष की तुलना में तीन गुना अधिक अंतर्राष्ट्रीय प्रविष्टियां हैं। इस साल महोत्सव में 13 वर्ल्ड प्रीमियर, 18 इंटरनेशनल प्रीमियर, 62 एशिया और 89 इंडिया प्रीमियर होंगे। सर्वश्रेष्ठ वेब सीरीज (ओटीटी) पुरस्कार के लिए 15 ओटीटी प्लेटफॉर्म से 10 भाषाओं में 32 प्रविष्टियां प्राप्त हुई हैं। प्रतिष्ठित गोल्डन पीकॉक पुरस्कार के लिए 15 फीचर फिल्में (12 अंतर्राष्ट्रीय फिल्में और 3 भारतीय फिल्में) प्रतिस्पर्धा करेंगी।
डॉक्यूमेंट्री विधा में इस वर्ष भारत की ऑस्कर प्रविष्टि की उपलब्धि को चिह्नित करने और आज फिल्ममेकिंग में डॉक्यूमेंट्रियों के बढ़ते महत्व को दिखाने के लिए दुनिया भर से सम्मोहक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्मों को दिखलाने वाला एक डॉक्यूमेंट्री-मोंटाज सेक्शन भी शुरू किया गया है। यूनेस्को के आदर्शों को प्रतिबिंबित करने वाली सात अंतर्राष्ट्रीय फिल्में और तीन भारतीय फिल्में आईसीएफटी यूनेस्को गांधी पदक पुरस्कार सत्र में प्रदर्शित की जाएंगी।
उभरती प्रतिभाओं को बढ़ावा देने की अपनी प्रतिबद्धता के प्रमाण के रूप में, इफ्फी फिल्म उद्योग के दिग्गजों द्वारा आयोजित मास्टरक्लास, वर्कशॉप और पैनल चर्चाओं की मेजबानी करेगा। इस वर्ष 75 क्रिएटिव माइंड्स ऑफ टुमॉरो (सीएमओटी) उम्मीदवारों के लिए सिनेमा के मास्टर्स द्वारा विशेष रूप से क्यूरेट की गई पेशेवर कक्षाएं होंगी और भर्ती के लिए 20 से अधिक अग्रणी कंपनियों के साथ एक प्रतिभा शिविर आयोजित किया जाएगा।
पिछले वर्ष शुरू हुई गाला प्रीमियर पहल का इस वर्ष भी 12 गाला प्रीमियर और 2 एक्सक्लूसिव वेब सीरीज प्रीमियर के साथ विस्तार किया जा रहा है। इफ्फी में इन फिल्मों के प्रीमियर पर उनके अभिनेता और कलाकार अपनी फिल्मों का प्रचार करने के लिए इफ्फी के रेड कारपेट पर चलेंगे।
एनएफडीसी फिल्म बाजार का 17वां संस्करण वीएफएक्स और टेक पवेलियन, डॉक्यूमेंट्री और गैर-फीचर प्रोजेक्ट्स/फिल्म्स, नॉलेज सीरीज और बुक टू बॉक्स ऑफिस के साथ अपने वर्टिकलों का दायरा बढ़ाएगा। इसके अलावा, एक रिस्टोर्ड क्लासिक्स सेक्शन भी शुरू किया गया है, जिसमें सात वर्ल्ड प्रीमियर किए जाएंगे। ये भारतीय क्लासिक फिल्में हैं जिनकी क्षतिग्रस्त सेल्युलाइड रीलों को नेशनल फिल्म हैरिटेज मिशन (एनएफएचएम) के तहत एनएफडीसी-एनएफएआई द्वारा रिस्टोर किया गया है। इसके अलावा, इस सेक्शन में तीन रिस्टोर की गई अंतर्राष्ट्रीय फिल्में भी प्रदर्शित की जाएंगी।
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के केन्‍द्रीय संचार ब्यूरो ने तल्‍लीन कर देने वाली दृश्य सामग्री की एक प्रदर्शनी भी लगाई है जो सिनेमा प्रेमियों को संवादमूलक प्रदर्शन के माध्यम से फिल्मों के बारे में जानकारी प्राप्‍त करने की अनुमति देगी। सभी के लिए प्रवेश निःशुल्क है। इफ्फी को दुनिया के लिए भारत के सबसे बड़े सांस्कृतिक समारोहों में से एक के रूप में बढ़ाने के लिए कैरावान्‍स, शिगमोत्सव, गोवा कार्निवल, सेल्फी पॉइंट, इफ्फी मर्चेंडाइज और अन्य पहलों के साथ-साथ जनता के लिए तीन स्थानों पर ओपन एयर स्क्रीनिंग भी आयोजित की जाएगी।
पत्र सूचना कार्यालय महोत्सव से संबंधित सभी कार्यक्रमों के बारे में अंग्रेजी, हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं में प्रेस विज्ञप्ति जारी करेगा। पीआईबी पहली बार स्थानीय मीडिया की जरूरतों को पूरा करने के लिए कोंकणी भाषा में भी प्रेस विज्ञप्ति जारी करेगा। पीआईबी की सोशल मीडिया टीम प्रेस कॉन्फ्रेंस और अन्य कार्यक्रमों की लाइव स्ट्रीमिंग करेगी, अपने सोशल मीडिया हैंडल पर लाइव अपडेट पोस्ट करेगी। पीआईबी ने मीडिया को आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए कार्यक्रम स्थल पर एक मीडिया सुविधा केन्‍द्र भी स्थापित किया है।

फिल्म महोत्सव को अधिक समावेशी और सुलभ बनाने के लिए, 54वें इफ्फी ने यह सुनिश्चित करने की व्यवस्था की है कि महोत्‍सव में विशेष रूप से सक्षम सभी स्क्रीनिंग और अन्य स्थानों तक पहुंच सकें। इसमें दृष्टिबाधित लोगों के लिए एम्बेडेड ऑडियो और एम्बेडेड सांकेतिक भाषा वाली फिल्में होंगी। इस बार कई भारतीय पैनोरमा फिल्में पसंदीदा भाषा में डबिंग के साथ-साथ अपने स्मार्टफोन और ईयरफोन का उपयोग करके देखी जा सकती हैं। इफ्फी ने बहुभाषी डबिंग के लिए सिनेडब्स ऐप के साथ साझेदारी की है।
समापन समारोह में, सर्वश्रेष्ठ फिल्म, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (पुरुष) और (महिला), विशेष जूरी पुरस्कार, ओटीटी प्लेटफॉर्म पर सर्वश्रेष्ठ वेब श्रृंखला, भारतीय फिल्म की वर्ष की शख्सियत और आईसीएफटी यूनेस्को गांधी पदक के लिए अनेक पुरस्कार और विशेष सम्मान प्रदान किए जाएंगे।
उद्घाटन समारोह के कुछ अंशों का दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण किया जाएगा। वायाकॉम मीडिया प्राइवेट लिमिटेड उद्घाटन और समापन समारोहों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए विशेष मीडिया और प्रसारण भागीदार है और कलर्स टीवी चैनल व इसके ओटीटी प्लेटफॉर्म जियो सिनेमा पर समारोहों का प्रसारण करेंगे।

Goa Samachar
Author: Goa Samachar

GOA SAMACHAR (Newspaper in Rajbhasha ) is completely run by a team of woman and exemplifies Atamanirbhar Bharat, Swayampurna Goa and women-led development.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

  • best news portal development company in india
  • buzzopen
  • sanskritiias